Monday, March 1, 2021
Home Architecture Ethical Value

Ethical Value

INTRODUCTION:-नैतिक मूल्य एक ऐसी परंपरा है जो प्रायः हमारे पूर्वज हमें काफी समय से सिखाते चले आ रहे है ,तथा यह प्रक्रिया पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ती जा रही है l ऐसे नैतिक मूल्य जिसमें दूसरों की मदद करना, सभी के साथ भाईचारे की भावना रखना तथा अन्य शिक्षा के उद्देश्य शामिल हैं l नैतिक  मूल्य प्रायः लोगों के दृष्टिकोण आधारित विश्वास पर टिका होता है ,जो व्यक्ति के व्यवहार में भी प्रदर्शित भी होता है l इसीलिए किसी व्यक्ति के मूल्यों का निर्धारण हम उसके व्यव्हार पर ही करते है lहिन्दू धर्म की पुस्तक रामायण में  राजा दशरथ एवं राम के नैतिक मूल्यों द्वारा उनके व्यवहार का निर्धारण किया जाता है कि किस प्रकार राजा दशरथ ने भगवान राम को वनवास भेजा तथा भरत को राजगद्दी दिया l रामजी ने १४ वर्ष के वनवास को पिताज्ञा के रूप में स्वीकार  किया l 

                              -:-  A STORY WHICH BASED ON ETHICAL VALUE-:-

 एक गाँव में एक लड़का रहता था उसका नाम रमेश था l  वह हमेशा सबका मजाक उड़ाता था ।वह अपनी कक्षा में सभी को परेशान भी करता था l जिससे उसके क्लास टीचर  भी  उससे परेशान रहते थे l जिसका कारन उसके माँ बाप द्वारा दी जाने  वाली छूट थी l वो जो चाहता था उसके माँ बाप उसे पूरा कर देते थे l  एक दिन  रमेश एक दिवार पर बैठा था और  उसके सामने से एक गंजा व्यक्ति जा रहा था वो उसको देख कर उसपर ताने कसने लगा जिससे गंजा व्यक्ति क्रोधित होकर रमेश की तरफ दौड़ा और रमेश भी भागा जिससे कि रमेश एक साइकिल से टकरा गया और बेहोश हो गया जब उसके आंख खुली तो  उसने खुद  को अस्पताल  में पाया और उसकी माँ ने बताया कि उसके पैर  कि अस्थि टूट गए है । लेकिन वह एक हफ्ते के बाद से स्कूल जा सकता है ।लेकिन जब वह स्कूल गया  चूँकि वह सबको परेशान करता था इसलिए सब उसको लंगड़ा कहकर सम्बोधित करने लगे । रमेश को अपनी गलती का एहसास हुआ और वह मन में बहुत रोया  और उसने कभी किसी को न चिढ़ाने कि कसम खायी l

Conclusion:-अंततः यह कहा जा सकता हे की व्यक्ति का आचरण जैसा होता है उसका व्यवहार वैसा ही बन जाता है l इसका औचित्य यह सिद्ध होता है की जो भी कार्य इंसान द्वारा होता है वह उसके आसपास के वातावरण  के कारण ही होता है l 

Harshit Srivastavahttp://digitaleme.com
Myself Harshit Srivastava ,I am a teacher .I found that lack of ethical education our age is look like without compassion ,sympathy ,empathy and vice versa. So i decided to provide ethical education.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Fire in Surat building, 2 persons move out of 4th floor window

Two residents of a fire-affected building saved themselves by using a window on its fourth floor to reach an adjoining apartment here in...

Delhi Police public library initiative earns accolades

The Delhi Police on Monday achieved another milestone in their community policing mission. The police-public library has been awarded an appreciation certificate in the 'innovation education'...

Defying lethal shootings, Myanmar protesters back on streets

Police in Myanmar’s biggest city on Monday fired tear gas at defiant crowds who returned to the streets to protest the military’s seizure...

Patna: Police resort to lathicharge as Left workers attempt to march to Vidhan Sabha

The Patna Police had to resort to baton charge Left party workers when they tried to break the barricading during the Vidhan Sabha...

Recent Comments